बिलासपुर

Bilaspur: पटवारी से तंग आकर किसान ने उठाया खौफनाक कदम, सुसाइड नोट में लिखा 5 हजार रुपए देने के बावजूद नहीं बनाया पर्ची, जांच में जुटी पुलिस

तखतपुर। (Bilaspur) जिले में पटवारी की मनमानी से तंग आकर एक किसान ने आत्महत्या कर ली। मृतक किसान ने सुसाइड नोट भी छोड़ा है। जिसमें उसने पटवारी को जिम्मेदार ठहराया है। मामला तखतपुर थाना क्षेत्र के राजाकापा का है। (Bilaspur) इधर सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। और मामले की जांच में जुट गई है।

(Bilaspur) जानकारी के मुताबिक पटवारी ने पैसे लेने के बावजूद किसान को पर्ची बनाकर नहीं दिया। समय पर जमीन की रजिस्ट्री नहीं होने पर कृषक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया है।  कृषक ने सुसाइड नोट में अपने मरने का कारण पटवारी को बताया है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार तखतपुर थाना अंतर्गत ग्राम राजा कापा निवासी छोटू राम कैवर्त पिता पंचराम कैवर्त जमीन बिक्री को लेकर पर्ची बनाने के लिए पटवारी का पिछले 6 महीने से चक्कर काट रहा था। पर्ची के लिए किसान पटवारी को 5000 रूपए भी दिए थे।

सूत्र ने बताया कि मार्च क्लोजिंग के समय छोटू को रजिस्ट्री करवाना था । लेकिन समय पर रजिस्ट्री नहीं करा पाया। पटवारी से तंग आकर छोटू शुक्रवार की सुबह 5 बजे घर से निकला। अपनी ही बाड़ी में फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया। थोड़ी देर बाद यानि पांच बजे के बाद जब छोटू की पत्नीचाय लेकर आयी तो उसने देखा कि उसका पति गमछे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया है ।

सुसाइड नोट में लिखा है कि वह पटवारी से तंग आ गया है। 5000 रूपए देने के बावजूद काम नहीं किया। और महीनों तक बेवजह घूमता रहा। इसलिए तंग आकर आत्महत्या कर रहा है। मामले में छोटू के साथी ने बताया कि जब छोटू ने पटवारी को रूपए दिए उस समय उसके साथ ही था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button