रायपुर

Big Breaking: स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव का का बड़ा बयान आया सामने, निजी अस्पतालों पर मनमानी की कही बात

रायपुर। (Big Breaking) स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव का का बड़ा बयान सामने आया है। जिसमे उन्होंने प्राइवेट अस्पतालो पर मनमानी करने की बात कही है। प्रदेश में कोविड से बढ़ते मौतों के आंकड़ों के सवाल पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि निजी अस्पतालों में पेशेंट जब गंभीर हो जाते है तो उन्हें रेफर कर दिया जाता है।

(Big Breaking) दरअसल स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने ली कोविड विषय पर समीक्षा बैठक की। सर्किट हाउस में चल रही समीक्षा बैठक खत्म हुई। बढ़ते कोरोना के आंकड़ों पर स्वास्थ्य मंत्री ने की विभागीय अधिकारियों और प्राइवेट अस्पताल संचालकों से चर्चा की।

 बैठक के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि अभी प्रदेश में बड़ी संख्या में लोग आधार कार्ड बनवा रहे हैं। जिसमे भीड़ हो रही है । लोगो से अपील है कि कार्ड बाद में बन जाएंगे भीड़ बढ़ने से संक्रमण का खतरा है। अभी सबसे ज्यादा दुर्ग जिले में पॉजिटिविटी रेट है।

 जहां पर अभी 28 प्रतिशत पॉजिटिविटी रेट दर्ज हुआ है। जो चिंता का विषय है। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने निजी और सरकारी अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या बढ़ाने पर बात हुई है। राजधानी के लालपुर और माना अस्पताल को चालू करने के निर्देश दिए गए है।

साथ ही प्रदेश में कोविड केयर सेंटर चालू करने पर भी बात हुई है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हर जिले में 500 के गुणाक के आधार पर  हर जिले में बिस्तर और ऑक्सीजन की व्यवस्था की जा रही है।

प्रदेश के लिए अच्छी खबर यह है कि लंबे समय से अटकी डायल 102 के टेंडर की प्रक्रिया भी पूरी हो गई है। जिसके बाद अब प्रदेश में नई 102 गाड़िया चालू हो रही है।

इसके साथ ही मेडिकल विभागों में प्रमोशन की प्रक्रिया भी चल रही है… और जल्द ही प्रमोशन और भर्ती प्रक्रिया को पूरा किया जाएगा। इस बार  मेडिकल कालेज अंबिकापुर और महासमुंद में जीरो होने का खतरा है।

प्राइवेट अस्पतालों में नाबालिकों के टीकाकरण की शिकायतों पर भी स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि अगर ऐसे मामलो की शिकायत है तो जांच कराकर कार्रवाई करवाई जाएगी। प्रदेश में लगातार बढ़ते संक्रमण पर स्वास्थ्य मंत्री ने प्रदेश के 7 जिलों में सबसे ज्यादा खतरा बताया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button