बेमेतरा

Bemetara: लापरवाही या दुर्घटना को कर रहे आमंत्रित, शिकायत पर शिकायत, मगर नहीं सुधरा 11 हजार वोल्ट का झूलता बिजली का तार, पढ़िए पूरी खबर

दुर्गा प्रसाद सेन@बेमेतरा। (Bemetara) जिले के अंतर्गत ग्राम मेहना के शासकीय हाई स्कूल  के पास से सटकर का लगा 11 हजाक वोल्ट का तार जमीन से लटककर दुर्घटनाओं को आमंत्रित कर रहा है।

शासकीय हाई स्कूल प्राचार्य अलका राजपूत ने बताया  कि  स्कूल  जाने के लिए कोई भी अप्रोच रास्ता नहीं है। बरसात में स्कूल पहुंचते तक  पानी व कीचड़  भरा रहता है। जिससे स्कूल के शिक्षक कीचड़ से सने पैरों से स्कूल पहुचते है।  वैसे तो इस वर्ष अब तक बरसात हो रही है. जिससे मेन रोड और स्कूल के बीच का रास्ता कीटड़ से सराबोर हैं। कोविड-19 की वजह से मार्च से स्कूल बंद है। जिससे बच्चों को कीचड़ और पानी से राहत जरूर मिला है। स्कूल प्राचार्या ने इस संबंध में ग्राम पंचायत के सरपंच को भी अवगत करवाया है। सरपंच ने शीघ्र ही  अप्रोच रोड बनाने की बात कहीं है।

Suicide: खेत में काम करने गए थे परिजन, इधर युवती ने उठाया खौफनाक कदम, पसरा मातम

(Bemetara) साथ ही साथ स्कूल से लगा विद्युत पोल का तार जमीन से लटक रहा है। जिसकी सूचना नवागढ़ विद्युत विभाग को लिखित शिकायत 2 जुलाई को  दी गई है । विद्युत तार स्कूल के नजदीक होने  व आसपास बड़ी बड़ी घास  लगे होने को मवेशियों पर  करेंट लगने का खतरा बना रहता है। 11 केवी का तार क्रॉस होकर ट्रांसफार्मर तक पहुंचाया गया है। जिसे बदलने  के लिए स्कूल के प्राचार्य  ने   बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता एवं अधीक्षण अभियंता को लिखित एवं मौखिक रूप से शिकायत की है।

Ambikapur: कार से कर रहे थे अवैध शराब की तस्करी, अब पहुंचे जेल के सलाखों के पीछे, पढ़िए पूरी खबर

(Bemetara) लेकिन विभाग लोहा पोल नहीं होने का बहाना बनाकर न ही ट्रांसफर बदल रहे और ना ही लटकते तारो को अब तक सुधारा गया। आज तक उनको उसी हाल पर छोड़कर  बड़ी दुर्घटना को आमंत्रित किया जा रहा है। झूलते हुए  खुले तार की चपेट में मवेशियों के चपेट में आने का अंदेशा हमेशा बना रहता है। उसके बाद भी बिजली विभाग का कोई ध्यान इस ओर नहीं है।  जहां पर केबल तार एवं सीमेंट पोल नहीं लगा है। जिसके कारण आंधी तूफान में जर्जर झूलते हुए तार के आपस में टकराने के कारण चिंगारी फेंके जाने  का मामला हमेशा बना रहता है। उन्होंने कहा कि 11हजार वोल्ट के तार एवं पोल को स्कूल से हटाकर नहीं लगाया गया है। जिससे आने वाले दिनों में कभी भी  बडी दुर्धटना घट सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button