बेमेतरा

Bemetara: स्वास्थ्य कर्मियों का हल्लाबोल, नियमतीकरण की मांग को लेकर अड़े, कार्यालय के सामने जमकर किया विरोध प्रदर्शन

बेमेतरा। (Bemetara) छत्तीसगढ़ के प्रदेश एनएचएम कर्मचारी संघ के प्रांतीय आव्हान पर जिले के समस्त  संविदा 13 हजार स्वास्थ्यकर्मी नियमितिकरण की मांग को लेकर लगातार हडताल  पर है। बुधवार को भी जिले के स्वास्थ्य संविदा कर्मचारी बडी संख्या मे जिला मुख्यालय पहुंचकर हडताल किये और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के सामने धरना-प्रदर्शन कर अपनी मांगो के लिए हल्ला बोला।

(Bemetara) जिले के  समस्त संविदा कर्मचारी नियमितिकरण मांग एवं हड़ताल को दबाव बनाके समाप्त करने के  उद्देश्य से संघ के प्रांताध्यक्ष की बर्खास्तगी एवं एफआईआर की कार्यवाही के विरोध मे अपना सामूहिक त्याग पत्र मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के आवक-जावक शाखा में दिए। 

स्वास्थ्य सुविधाएं बुरी तरह से हुई प्रभावित

संविदा स्वास्थ्य कर्मियों के त्यागपत्र इस बात की ओर रुख करता है कि इनका आंदोलन लंबा चलने वाला हैं। इनके हड़ताल के कारण जिले मे स्वास्थ्य सेवाए बुरी तरह से प्रभावित है। आम जनता को स्वास्थ्य सेवायें नही मिल पा रही हैं। जिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर एवं उप स्वास्थ्य केन्द्रों मे  लोगो को स्वास्थ्य  सेवाएं नही मिल पा रही हैं। लोग स्वास्थ्य सेवाओं के लिए भटक रहे हैं।

कई स्वास्थ्य केंद्रों में लटका ताला

(Bemetara) जिले  के कई स्वास्थ्य केन्द्रों मे ताला लगा हुआ है । लोग टीकाकरण एवं गर्भवती महिला जांच जैसे मुख्य स्वास्थ्य सेवाओं के लिए भटक रहे हैं। हडताल के कारण राज्य एवं केंद्र सरकार को छत्तीसगढ़ राज्य की स्वास्थ्य की स्थिति की रिपोर्ट नहीं मिल पा रही है!

  संविदा कर्मचारियो के बेमियादी हडताल से जिले मे कोरोना जांच लगभग ठप हो गया है जिसके कारण कोविड-19 पॉजिटिव केस मे कमी आई है। जांच कम होने से जिले मे कोरोना विस्फोट होने की संभावना है। कलेक्टर के बर्खास्तगी पत्र का भी जिले के कर्मचारियों पर कोई असर नही हुआ ।

हड़ताल रहेगा जारी

जिला  ईकाई के संघ अध्यक्ष पुरन दास एवं उपाध्यक्ष डॉ प्रीति ठाकुर , संजय तिवारी ने बताया कि हम पुरे छ.ग. प्रांत मे शांतिपूर्ण ढंग से अपनी एक सूत्रीय मांग नियमितिकरण के लिए हडताल कर रहे हैं। शासन द्वारा हडताल को शिथिल करने के लिए हमारे संघ के प्रांताध्यक्ष एवं कई जिलो के कार्यकारिणी सदस्यों को सेवा से बर्खास्त कर दण्डात्मक कार्यावाही की गई है. जिसके विरोध मे हमने सामुहिक त्याग-पत्र दे दिया है। हमारी मांग नियमितिकरण को जब तक सरकार पुरा नही करती तब तक हडताल जारी रहेगा।

इधर विभिन्न अधिकारी/कर्मचारी संघ के साथ-साथ विभिन्न संगठनो का समर्थन स्वास्थ्य संविदा कर्मचारियों को मिल रहा है। सोमवार को स्वास्थ्य संयोजक कर्मचारी संघ छत्तीसगढ.  के बेमेतरा जिला अध्यक्ष छत्तीसगढ़ प्रदेश एनएचएम कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष को पत्र लिख नियमितिकरण मांग के लिए समर्थन दिया है। वही छत्तीसगढ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ के जिला अध्यक्ष नरेश साहू ने संघ जिलाध्यक्ष को पत्र लिख मांग को जायज बताते हुए समर्थन दिया है. साथ ही जरूरत पड़ने पर नियमितिकरण के लिए समर्थन की बात कह रहे हैं।

विधायक ने दिया आश्वासन      

बुधवार को संघ के जिला अध्यक्ष पुरन दास एवं उपाध्यक्ष संजय तिवारी के साथ डाॅ ब्रजेश दुबे, डाॅ डोमन यादव, डॉ प्रकाश रातडे, डाॅ तेज साहू, चंद्रकुमार देवांगन, सुनील पात्रे, यशवंत भारद्वाज, दीपक वर्मा, बलवंत बंजारे आदि ने बेमेतरा विधायक आशिष छाबडा से मिलकर अपनी मांगो से अवगत कराया । विधायक द्वारा संविदा स्वास्थ्य कर्मचारीयो की मांग नियमितिकरण के लिए मुख्यमंत्री को पत्र भी लिखा गया। साथ ही विधायक आशीष छाबडा द्वारा कर्मचारियों को आश्वासन दिया गया कि उनकी मांगो के संबंध मे विधायक दल की बैठक मे अपनी बात रखेंगे।

Rajnandgaon: 513 संविदा स्वास्थ्य कर्मियों का इस्तीफा, क्या कहा CMHO ने सुनिए, Video

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button