बलौदाबाजार

Balodabazar: पक्की सड़क की राह ताकते ग्रामीण, कब पूरा होगा सपना?..देखें ये Video

प्रदीप देवांगन@बिलाईगढ़/बलौदाबाजार। (Balodabazar) बलौदाबाजार जिला में आज भी ऐसा गाँव है जो विकास से कोसो दूर है। वहां के ग्रामीण आज भी आजादी के 74 साल बाद भी गड्‌ढ़े वाले सड़कों पर चलने को मजबूर है।

बीते 30 सालों से सड़क निर्माण की मांग करते आ रहे हैं। बावजूद इन ग्रामीणों की मांगों पर जनप्रतिनिधि सहित सरकार ने भी  इस गांव की ओर ध्यानाकर्षित नहीं किया है। जिसके चलते ग्रामीणों को आवागमन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

5 गांवों को जो़ड़ती सड़क

(Balodabazar) दरअसल हम बात कर रहे है बिलाईगढ़ विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत टेढ़ीभदरा के आश्रित ग्राम गगोरीटांणा की। जहां की जनसंख्या लगभग 250 से पार है और अनुसूचित जाति बाहुल्य ग्राम है। ग्रामीणों के अनुसार सारंगढ़ से गिधौरी मुख्यमार्ग के  बीच से ही गगोरीटांणा जाने वाले एक ही कच्ची मार्ग है। जो गगोरीटांणा सहित और पांच गांवों को जोड़ता है जिसकी लम्बाई लगभग 5 किलोमीटर है। विगत 25 -30 सालों से इसी कच्ची मार्ग से ही आवागमन करते आ रहे हैं। जैसे ही बरसात के दिन आते हैं, यह मार्ग गड्‌ढ़ों में तब्दील हो जाते हैं।

गड्‌ढ़ों से भरे मार्ग में परेशानियों का करना पड़ रहा है सामना

(Balodabazar) गड्‌ढ़ों से भरे मार्ग में कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यदि किसी को प्रसव पीड़ा हो जाए तो लाने ले जाने में भी कई कठिनाइयां सहना पड़ता है। इन ग्रामीणों की माने तो इस गांव के कई मरीजों को इस मार्ग में अपनी जान गवानी पड़ी है। बावजूद इस मार्ग को पक्की सड़क निर्माण नहीं किया गया है।

सरपंच प्रतिनिधि ने भी की मांग

वहीं सरपंच प्रतिनिधि ने बताया कि इस मार्ग को पक्की सड़क निर्माण करने की कई बार मांग की जा चुकी है। साथ ही साथ विधायक जनदर्शन में भी  मांग रख चुके हैं। बावजूद यह मार्ग अब तक नहीं बन सका है। सभी ने आश्वासन के सिवाय कुछ नहीं दिया ।

वहीं इस मार्ग को मुख्यमंत्री सड़क योजना में जोड़  पक्की सड़क निर्माण करने की मांग रखी है । ताकि इन ग्रामीणों की परेशानियां खत्म हो सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button