सरगुजा-अंबिकापुर

 Ambikapur news: राम मंदिर भूमिपूजन की खुशी, युवा जनता कांग्रेस एवं छात्र संगठन जोगी ने प्रज्वलित किया दीप

शिव शंकर साहनी@अंबिकापुर। ( Ambikapur news)युवा जनता कांग्रेस एवं छात्र संगठन जोगी अम्बिकापुर के द्वारा दिप  प्रज्वलित किया गया।

छात्र संगठन के जिलाध्यक्ष रचित मिश्रा ने बताया कि उत्तर प्रदेश की पावन नगरी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के

लिए होने वाले भूमि पूजन कार्यक्रम की शुरुआत सोमवार से ही हो चुकी है.

( Ambikapur news)आज रामार्चा पूजा हुई.

यह पूजा सुबह 9 बजे से लेकर दोपहर 2 बजे तक चली.

( Ambikapur news)इसमें आज 6 पुजारी शामिल रहे हैं.

वहीं,भूमि पूजा के साथ-साथ अयोध्या बहुत सुंदर सजाया गया है और साथ कहा कि राम मंदिर के आसपास के घरों और सड़कों को लड़ियों और पीले-केसरिया रंग के पैंटों से सजाया घया है.

सरयू नदी घाटों और किनारों पर दीये जलाने के व्यवस्था की गई है.

इतना ही नहीं सरयू नदी पर बने पुल को जगमगमाती लड़ियों से सजाया गया है,

जिसकी सुंदरता शाम और रात के अंधेरे में दिखाई देगी.

इसके अलावा सड़कों पर जगह-जगह भगवान राम के बड़े पोस्टर और बैनर लगाए गए हैं.

राम मंदिर के पास बने राम की पौड़ी को भी सुंदर तरीके से सजाया गया है.

Independence day: सोशल-फिजिकल डिस्टेंसिंग के साथ आयोजित होंगे समारोह, राजधानी में CM करेंगे ध्वजारोहण

यहां मौजूद घरों, दुकानों और मंदिरों को रंग-बिरंगी लड़ियों और लाइटों से सजाया गया है.

इनकी परछाई सरयू नदी के पानी पर भी पड़ रही हैं.

जिसे देखने क बाद लगता है कि नदी से रंग-बिरंगे प्रकाश निकल रहे हैं.

लोगों का मानना है कि ये इस जगह भगवान राम का जन्म हुआ था,

जिसकी वजह से बाबरी मस्जिक को गिराया गया था.

पिछले साल नवंबर में सुप्रीम कोर्ट ने फैसले में मंदिर बनाने के अलावा मुसलमानों को किसी अन्य जगह पर मस्जिद बनाने के लिए पांच एकड़ जगह दी थी

इसके अलावा राम मंदिर के आसपास के घरों में लोग दिए जलाएंगे.

इसकी तैयारी भी लोगों ने शुरू कर दी है.

लोग दिए से जय श्री राम और अयोध्या राम लला लिख रहे हैं.

इतना ही लो लोग लड़ियों से भी अपने घरों के बाहर जय श्री राम का नारा लिख रहे हैं.

और कार्यक्रम में उपस्थित युवा जानत कांग्रेस (जे) के रोहित सुब्बा,मुनेश्वर यादव,रावीर सिंह,संध्या सोनी,रवि थापा, राजू सिंह आदि उपस्थित रहे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button