सरगुजा-अंबिकापुर

Ambikapur news:  जिले के इन गौठानों में होगा इस तकनीक का प्रयोग, तेजी से हो रहा काम

शिव शंकर साहनी@अंबिकापुर. (Ambikapur news) देश के कई राज्यों में दुग्ध उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए सेक्स शार्टेड सिमेन का उपयोग किया जाता है.

इसका परिणाम भी असरकारी रहा है।

(Ambikapur news) कृत्रिम गर्भाधान से 90 फीसद बछिया जन्म लेती है।

यही प्रयोग अब सरगुजा जिले के आदर्श गौठान ग्राम केशवनगर, पुहपुटरा, कुनिया व लमगांव में किया जाएगा.

शुरुआती चरण में आदर्श गौठान केशवनगर, पुहपुटरा, कुनिया, लमगांव तथा आदर्श गौठान ग्राम के गाय में इसका प्रयोग किया जाएगा.

सरगुजा जिले में दुग्ध उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए कृत्रिम गर्भाधान में नवाचार किया जा रहा है.

पायलट प्रोजेक्ट के रूप में ऐसे सिमेन का उपयोग किया जाएगा,

जिससे जन्म लेने वाली 90 फीसद बछिया होगी.वर्तमान में 50 रुपये प्रति सिमेन का उपयोग कृत्रिम गर्भाधान में किया जाता है.

पायलट प्रोजेक्ट में 1200 रुपये प्रति सिमेन खर्च किया जाएगा। सरगुजा जिले में कृत्रिम गर्भाधान में वर्तमान में जो परिणाम आता है,

Chhattisgarh news: सार्वजनिक क्षेत्र बचाओ, देश बचाओ ट्रेड यूनियनों का देशव्यापी *सत्याग्रह , महापात्र सहित कई नेता गिरफ्तारी  के बाद हुए रिहा

उसमें गारंटी नहीं होती कि बछड़ा होगा या फिर बछिया 50 रुपये प्रति सिमेन की दर से कृत्रिम गर्भाधान किया जाता है,

(Ambikapur news) जिसमें 50-50 प्रतिशत का आकलन बछड़ा व बछिया को लेकर होता है,

लेकिन अब नया प्रयोग शुरू किया जा रहा है.

इधर पशु पालकों ने बताया कि इस कृत्रिम गर्भाधान से हमे बहुत फायदा पहुंचा है

जहाँ हम अच्छे ब्रीड के गाय नही होने की वजह से 5 से 10 लीटर दूध गया देती थी

लेकिन अब ऐसा नही है. लेकिन अब  बीस से लीटर तक दूध मिल जाता है.

बहरहाल  सरगुजा कलेक्टर संजीव झा की अध्यक्षता में जिला पशु रोगी कल्याण समिति की बैठक में उक्त प्रस्ताव को

हरी झंडी दी गई है.

इस नवाचार में 75 प्रतिशत राशि विभागीय होगी और 25 प्रतिशत हितग्राही से लिया जाएगा.

सिमेन प्रदाय करने वाली संस्था के दावे के अनुरूप यदि प्रयोग सफल हुआ

तो समूचे जिले में इसे लागू कर दिया जाएगा,

जिससे जिले में गाय की संख्या बढ़ेगी और दुग्ध उत्पादन को भी बढ़ावा मिलेगा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button