सरगुजा-अंबिकापुर

Ambikapur news: लापरवाही की भेंट चढ़ा नवजात, बीच रास्ते में तोड़ा दम, सुनिए परिजन की जुबानी

शिव शंकर साहनी@अंबिकापुर। (Ambikapur news) मेडिकल कॉलेज अस्पातल में एक नवजात शिशु की  बेहतर उपचार के आभाव में मृत्यु हो गई।

बच्चे को नाजुक हालत में सूरजपुर जिला अस्पताल से अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर किया गया था।

वही बच्चे की मृत्यु के बाद परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया हैं।

अंबिकापुर के मेडिकल कॉलेज अस्पताल से एक नवजात शिशु के मृत्यु का मामला सामने आया हैं।

मामला मेडिकल कॉलेज अस्पताल के शिशु वार्ड का हैं।

सूरजपुर निवासी राजेंद्र प्रताप साहू की पत्नी ने सूरजपुर स्थित जिला अस्पताल में मंगलवार को एक ही साथ दो बच्चो को जन्म दिया था।

(Ambikapur news) जन्म के बाद एक बच्चे की हालत तो काफी अच्छी थी। लेकिन दुसरे बच्चे की हालत काफी गंभीर थी।

बच्चे की नाजुक हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने बच्चे को अंबिकापुर जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

जिसके बाद बच्चे के पिता ने 108 पर फोन कर एंबुलेंस मंगाया।

लेकिन ऐम्बुलेंस भी काफी लेटलतीफी से पहुचीं।

एंबुलेंस में ऑक्सीजन की व्यवस्था नहीं थी

बच्चे के नाजुक हालत को देखते हुए एंबुलेंस में ऑक्सिजन की भी व्यवस्था नही थी।

(Ambikapur news) बावजूद इसके किसी तरह बच्चे को अंबिकापुर के मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया गया।

यहां चिकित्सकों ने जांच के बाद बच्चे की नाजुक हालत को देखते हुए वेंटिलेटर में शिफ्ट कर दिया था।

लेकिन फिर भी बच्चे की हालत में सुधार नही आया।

बच्चे को रायपुर ले जाने की दी सलाह

बच्चे की बिगड़ती हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने माता पिता को बच्चे के सही इलाज के लिए रायपुर ले जाने की सलाह भी दी।

लेकिन परिजन अपने बच्चे को बिलासपुर ले जाना चाहते थे।

मेडिकल कॉलेज अस्पताल प्रबंधन के पास नवचात बच्चो के लिए एंबुलेंस की व्यवस्था न होने के कारण पिता ने

बिलासपुर से एक एंबुलेंस भी मंगाया था।

लेकिन एंबुलेंस अंबिकापुर पहुंच पाता इससे पहले मेडिकल कॉलेज अस्पताल के शिशु वार्ड में गुरूवार की दोपहर 12 बजे

बच्चे की इलाज के दौरान मृत्यु हो गई।

फिलहाल बच्चे की मृत्यु के बाद परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर आरोप लगाते हुए कहा हैं कि चिकित्सकों के द्वारा

बच्चे के इलाज में लापरवाही बरती गई हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button