सरगुजा-अंबिकापुर

Ambikapur: खाद्य मंत्री ने किया लघु वनोपज गोदाम, डे-शेल्टर तथा बैम्बू सेटम का लोकार्पण, कही ये बात

शिव शंकर साहनी@अंबिकापुर। (Ambikapur) छत्तीसगढ़ शासन के खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण तथा संस्कृति मंत्री  अमरजीत भगत ने आज मैनपाट विकासखंड के कमलेश्वरपुर में वन धन योजना के तहत लघु वनोपज गोदाम तथा जलजली में डे-शेल्टर, (Ambikapur) इको कुकिंग सेंटर, चेनलिंक फेंसिंग, टेंट प्लेटफार्म, बैठक व्यवस्था एवं बैम्बू सेटम का लोकार्पण किया। इस दौरान जलजली में एक आयताकार चबूतरा निर्माण हेतु वन विभाग को तथा मैनपाट के सभी पिकनिक स्पॉट जलजली, टाइगर पॉइंट, फिश पॉइंट तथा परपटिया में हैंडपम्प, ओवरहेड टैंक, शेड तथा हाई मास्क लाइट लगाने के निर्देश जनपद सीईओ को दिए। इसके साथ ही जलजली पर्यटक स्थल में कार्य करने वाले लगभग 32 व्यक्तियों को जिसमे निजी स्टॉल तथा घुड़सवार शामिल हैं (Ambikapur) आई कार्ड वितरित किया गया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मंत्री  भगत ने कहा कि हमारा सबसे बड़ा कोशिश होनी चाहिए कि मैनपाट हरा-भरा रहे, जंगल बचा रहे ताकि पर्यटक यहां के हरियाली से आकर्षित होकर घूमने आए। मैनपाट को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान देने की कवायद शुरू हो गई है। नेशनल टूरिज्म सर्किट में शामिल करने हेतु प्रस्तव प्रेषित किया जा चुका है।

शीघ्र ही मैनपाट नेशनल टूरिज्म सर्किट से जुड़ जाएगा। उन्होंने कहा कि नेशनल टूरिस्म सर्किट के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय टूरिज्म सर्किट से जोड़ने के लिए भी प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है ताकि यहां बुद्धिज्म सर्किट बने तो अंतर्राष्ट्रीय पर्यटक श्रीलंका, भूटान, जापान आदि देशों से यहां आएं और यहां के सुंदरता और संस्कृति को देखकर आकर्षित हो। उन्होंने कहा कि मैनपाट में पर्यटकों की सुविधा को ध्यान में रखकर हवाई पट्टी का भी निर्माण कराया जाएगा।

यहां हवाई पट्टी बनने से पर्यटक जहाज से सीधे मैनपाट में लैंड करेंगे और यहां से सीधे गंतव्य के लिए रवाना हो सकेंगे। उन्होंने कहा कि सीतापुर के सभी सड़को डामरीकरण  का नया लेयर के लिए लोक निर्माण विभाग को प्रस्ताव भेजा गया है। इससे सभी सड़क सुगम हो जाएगा।

आदिवासी विश्वविद्यालय के प्रतिनिधियों से चर्चा

इसके पूर्व मंत्री  भगत ने इंदिरा गांधी राष्ट्रीय आदिवासी विश्वविद्यालय समिति के अध्यक्ष  एके शुक्ला के सहित अन्य  सदस्यों से फारेस्ट रेस्ट हाउस में चर्चा  कर मैनपाट में शोध केंद्र खोलने में तेजी लाने  की पहल की। उन्होंने कहा कि मैनपाट शैक्षणिक केंद्र के रूप में विकसित करने के लिए अनुकूल है। विश्वविद्यालय हेतु ग्राम पंचायत परपटिया में 100 से 150 एकड़ भूमि का चिन्हांकन भी कर लिया गया है। उन्होंने समिति के सदस्यों को चिन्हांकित भूमि का अवलोकन कर आवश्यक प्रस्ताव तैयार करने कहा।

जलजली में की घुड़सवारी

मंत्री  भगत ने जलजली भ्रमण के दौरान स्थानीय जन प्रतिनिधियों के साथ घुड़सवारी का लुत्फ उठाया। उन्होंने कहा कि जलजली की प्राकृतिक सुंदरता के साथ ही यहां घुड़सवारी का आनंद अलग एहसास देता है। इससे पर्यटको का मनोरंजन तो होता ही है साथ ही रोजगार का साधन भी बन गया है।

Related Articles

3 Comments

  1. 18556 390976If you are still on the fence: grab your favorite earphones, head down to a Greatest Buy and ask to plug them into a Zune then an iPod and see which one sounds better to you, and which interface makes you smile a lot more. Then you will know which is right for you. 169986

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button