बालोद

 ‌‌Balod: ग्रामीणों से ये कैसा मजाक, 2 साल बीते, मगर अब तक नहीं मिला शौचालय निर्माण का पैसा, आखिर कैसे घोषित हुआ ODF गांव…!

शिव जायसवाल@बालोद। ( ‌‌Balod) जिले के बालोद जनपद क्षेत्र अंतर्गत ग्राम चिचबोड़ में बीते 2 साल बाद भी स्वच्छ भारत योजना के तहत शौचालय निर्माण का पैसा नहीं मिल पाया है। जिसके कारण यहां के हितग्राही भटकने को मौजूद है। पंचायत भी इस मामले में ध्यान नहीं दे रहा है।

( ‌‌Balod) जिसके कारण हितग्राही परेशान हैं। मामले में पंचायत के सचिव का कहना है कि यह मामला उनके कार्यकाल का नहीं है। वही जब मीडिया ने सवाल किया कि आपने इनके पैसा दिलाने प्रयास क्यों नहीं किया। तो उन्होंने कहा कि पूर्व सचिव द्वारा इनके शौचालय का पैसा जिला पंचायत में वापस जमा कर दिया गया है।

( ‌‌Balod) गौरतलब है कि स्वच्छ भारत मिशन सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में शामिल है। इसके तहत लोगों को खुले में शौच जाने से रोकने घर-घर शौचालय निर्माण के लिए राशियां दी जा रही थी। कुछ हितग्राहियों ने शौचालय का निर्माण करवा लिया। मगर कुछ हितग्राहियों से वह शौचालय बना लें उसके बाद उन्हें राशियां दी जाएंगी। जिसके बाद हितग्राही खुद के खर्च से शौचालय बनवा रहे थे।

मगर किस्तों में जो राशि देने की बात हुई थी वह राशि मिल ही नहीं पा रही है। लोगों के शौचालय अधूरे हैं अब भगवान जाने किस माध्यम से यहां ओडीएफ गांव को घोषित किया गया है कुल 16 हितग्राही ऐसे हैं जिनका भुगतान नहीं हो पाया है।

Janjgir:  बीडीसी के परिवारवालों की दबंगई, नाराज ग्रामीण पहुंचे थाने, क्या कहना है ग्रामीणों का सुनिए..Video

पूरे मामले में पंचायत के सचिव का कहना है कि पूर्व सरपंच व सचिव द्वारा शौचालय निर्माण के लिए मिली राशियां वापस जिला पंचायत में जमा कर दी गई थी। जिसके बाद से अब हो ना हम उन्हें वापस लाने के लिए प्रयास कर रहे हैं। जल्द ही राशियां दे दी जाएंगी। मगर हितग्राहियों का आरोप है कि पंचायत द्वारा किसी तरह का कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है। जिसके कारण उन्हें दिक्कतें हो रही है लगभग 1.19 लाख के करीब की राशि वापस जिला पंचायत में जमा कर दिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button