Home राजनीति Ajay Chandrakar की विवादित  ट्वीट पर धनेंद्र का पलटवार, बोले- छत्तीसगढ़ का...

Ajay Chandrakar की विवादित  ट्वीट पर धनेंद्र का पलटवार, बोले- छत्तीसगढ़ का राजकीय चिन्ह कोई सामान्य तस्वीर नहीं

रायपुर। (Ajay Chandrakar )अभनपुर विधायक पूर्व मंत्री पूर्व प्रदेश अध्यक्ष  धनेंद्र साहू ने कुरूद विधायक अजय चंद्राकर द्वारा छत्तीसगढ़ के राजकीय प्रतीक चिन्ह की तुलना गोबर से किए जाने पर निंदनीय करार देते हुए भद्दा मजाक एवं घटिया सोच बताया उन्होने कहा की छत्तीसगढ़ का राजकीय चिन्ह कोई सामान्य तस्वीर नहीं है। छत्तीसगढ़ की जनता […]

Ajay Chandrakar
Ajay Chandrakar

रायपुर। (Ajay Chandrakar )अभनपुर विधायक पूर्व मंत्री पूर्व प्रदेश अध्यक्ष  धनेंद्र साहू ने कुरूद विधायक अजय

चंद्राकर द्वारा छत्तीसगढ़ के राजकीय प्रतीक चिन्ह की तुलना गोबर से किए जाने पर निंदनीय करार देते हुए भद्दा

मजाक एवं घटिया सोच बताया उन्होने कहा की छत्तीसगढ़ का राजकीय चिन्ह कोई सामान्य तस्वीर नहीं है।

छत्तीसगढ़ की जनता का मान, सम्मान एवं अस्मिता का प्रतीक है।

उनके टिप्पणी से छत्तीसगढ़ की जनता आहत है।

उन्होंने भारतीय जनता पार्टी से सवाल किया है कि उसके नेता जो टिप्पणी किए उससे भारतीय जनता पार्टी सहमत हैं।

उन्होने अजय चंद्राकर को विवादित टिप्पणी के लिए पूरे छत्तीसगढ़ की जनता से माफी मांगने कहा।

छत्तीसगढ़ की संस्कृति में गोबर का विशेष महत्व

साहू ने कहा की छत्तीसगढ़ की संस्कृति में गोबर का विशेष महत्व है।

हमारे लिए गौ माता जो अत्यंत ही पुज्यनीय है।

जिसका गोबर पवित्र कार्य के लिए उपयोग में लाये जाते है।

गोबर से घर आंगन की पोताई किया जाता है। छत्तीसगढ़ की पुरानी संस्कृति है।

जिस जगह पूजा होती है वहां गोबर से पोताई कर पवित्र किया जाता है एवं गोबर का गौरी गणेश बनाकर पूजा किया जाता है।

छत्तीसगढ़ में गोवर्धन पूजा में ग्रामीण मस्तक में गोबर का तिलक लगाकर एक -दुसरे का सम्मान करते है ।

15 साल के राज में किसानों के लिए कुछ नहीं किया बीजेपी ने

साहू ने आगे कहा कि भारतीय जनता पार्टी के15 साल के राज में किसानों एवं आमजनो के हित मे कुछ भी कार्य नहीं हुए किसान पूरे 15 साल उपेक्षित रहा उनकी सरकार किसानों को परेशान करती रही।

किसान इतना परेशान थे कि कई किसान आत्महत्या करने मजबूर भी हुए।

लेकिन कांग्रेस की सरकार आने के बाद मुख्यमंत्री भुपेश बघेल किसानों की चिंता करते हुए इनके हित के लिए अनेकों योजनाएं चालू की है।

किसानों की समृद्धि के लिए किसानों के हित के लिए सरकार द्वारा अनेकों कार्य किए जा रहे हैं।

जिससे भारतीय जनता पार्टी के नेता तिलमिला गए हैं एवं उटपटांग टिप्पणी पर ऊतारू हो गए है।

Murder: दोस्त बने हत्यारे, खर्चे को लेकर हुआ था विवाद, फिर गुस्से में आकर 1 दोस्त को सुला दी मौत की नींद, पढ़े
निश्चित मूल्य के भीतर खरीदा जाएगा गोबर

उन्होने बताया कि छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार द्वारा नरवा गरवा घुरवा बारी योजना के अंतर्गत गोधन योजना की

शुरुआत की जा रही है।

जिसके अंतर्गत एक निश्चित मूल्य पर पशुपालकों  से समिति के माध्यम से गोबर खरीदा जाएगा।

इस योजना पर बात करते हुए अभनपुर विधायक साहू ने कहा कि इस योजना से पूर्वज पुरखों के परंपरा साकार होंगे।

छत्तीसगढ़ सरकार की इस योजना को लाने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का तारीफ करते हुए कहा की मुख्यमंत्री के दूरगामी निर्णय से पशुपालको को लाभ पहुंचाने के लिए देश का पहला राज्य बन गया है।

साहू ने कहा कि इस योजना से गोधन की रक्षा होगी फसल की सुरक्षा होगी।

फसलों की सुरक्षा से फसलों की पैदावारी बढ़ेगी गोबर को सरकार द्वारा उचित मूल्य में खरीदने के निर्णय से किसान आर्थिक रूप से और संपन्न होंगे।

वही गौठानों में स्व सहायता समूह को रोजगार मिलेगा रासायनिक खाद पर किसानों की निर्भरता घटेगी।

रासायनिक खाद से खेत को होने वाले नुकसान रुकेगी गोबर से जैविक खाद, कंपोस्ट खाद एवं वर्मी खाद के रूप में

प्रयोग करने से किसानो की खेती की लागत में कमी आएगी।

उन्होंने कहा कि सरकार का यह योजना मिल का पत्थर साबित होगा।

किसान, पशुपालक आत्मनिर्भर एवं आर्थिक रूप से संपन्न होंगे।